मुक्तक|कवि प्रमोद

मुक्तक|कवि प्रमोद

वो हमें चैन से जीने नहीं देंगे तो क्या
हम भी मरने के बाद याद बहुत आएंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *